ओशो सो जाने जीवन जीने के तरीका, कितने सार्थक है ये उनके वचन

ओशो सो जाने जीवन जीने के तरीका, कितने सार्थक है ये उनके वचन
जीवन के बारे में ओशो के विचार युवाओं के बीच बहुत ही शुमार हैं. उनके विचारों में जीवनदर्शन का एक हटकर चित्रण मिलता है. उनके इन्हीं विचारों के कुछ मोती जोड़े हैं
1/ 8
जीवन के बारे में ओशो के विचार युवाओं के बीच बहुत ही शुमार हैं. उनके विचारों में जीवनदर्शन का एक हटकर चित्रण मिलता है. उनके इन्हीं विचारों के कुछ मोती जोड़े हैं
2/ 8
जीवन मे मिलने वाले संघर्ष आपको सही गलत ज्ञान देते हैं. ये आप पर निर्भर है कि आप उसे अनुभव का नाम दें कर उससे सीख लें या कष्ट समझकर अपना आपा खो दें.
3/ 8
हर चीज को नफरत और प्यार के तराजू में तोलना ठीक नहीं. इससे भेदभाव बढ़ता है. जब आप इस तराजू से ऊपर उठकर देखते है तो चीजे बेहतर नजर आती हैं.
4/ 8
आप जब किसी अंजान के प्रति प्रेम भाव रखते हैं तो वह आपके साहस का प्रतीक है. वह व्यक्ति या किसी भी अन्य प्राणी के साथ हो सकता है. ये आपके विशाल हृदय को दर्शाता है.
5/ 8
अकसर लोग निर्रथक बातों में अपना समय बर्बाद करते हैं. हो सके तो मौन रहें या कम बोलें, इससे आपकी सकारात्मकता बनी रहेगी. आवश्यकता के अनुसार बोलें.
6/ 8
लोग पूरा जीवन एक-दूसरे से बराबरी करने में निकाल देते हैं. इस बीच वो उसे नजरअंदाज कर देते हैं जो उनमें खास है. आपको प्रकृति ने जो रूप और गुण दिए हैं वो आपके लिए श्रेष्ठ हैं.
7/ 8
यदि आपको लगता है कि कोई आपकी इच्छाओं को पूरा करने के लिए प्रयत्न करेगा तो ये सही नहीं. संसार में लोगों के सभी कार्य स्वयं उनकी इच्छाओं के इर्द-गिर्द ही घूमते हैं.
8/ 8
ध्यान बहुत बड़ा शब्द है. ये आपको स्वयं में स्थापित करता है. आप कौन हैं इसका अनुभव करवाता है. ध्यान से आप हर चीज हांसिल कर सकते हैं, ईश्वर तक को अपने करीब ला सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *